Explore

Search
Close this search box.

Search

July 22, 2024 11:07 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

न्यायिक जांच कमेटी पहुंची हाथरस सत्संग स्थल का किया निरीक्षण

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

टीम ने हर बिंदु की गहनता से की पड़तालःट्राॅमा सेंटर पर भी की जांच

सिकन्द्राराऊ-6 जुलाई। कोतवाली क्षेत्र के जीटी रोड स्थित गांव फुलरई मुगलगढ़ी पर गत 2 जुलाई को आयोजित साकार विश्व हरि के सत्संग समापन पर घटित दर्दनाक एवं हृदय विदारक हादसे के बाद पूरे घटनाक्रम की जांच हेतु शासन द्वारा सत्संग हादसे की जांच के लिए गठित की गई तीन सदस्यीय न्यायिक जांच कमेटी ने आज मौके पर पहुंचकर सत्संग हादसा स्थल एवं पंडाल, खेत , गड्ढा का निरीक्षण किया है। इसके बाद टीम ने सिकन्द्राराऊ सीएचसी ट्रॉमा सेंटर पर पहुंचकर उसका भी निरीक्षण किया। न्यायिक जांच टीम के साथ जनपद के जिलाधिकारी एवं आला अधिकारी भी मौजूद थे।
उल्लेखनीय है कि गत 2 जुलाई को कोतवाली क्षेत्र के एटा जीटी रोड स्थित गांव फुलरई मुगलगढ़ी पर साकार विश्व हरि भोले बाबा के आयोजित विशाल सत्संग समागम के समापन पर हुई भगदड़ में करीब 123 लोगों की जहां दर्दनाक असमय मौत हो गई। वहीं तमाम लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे और उक्त दर्दनाक हादसे की खबर से पूरे जिले में ही नहीं बल्कि प्रदेश एवं देश में भारी हा-हाकार मच गया था और उक्त मामले की विस्तार से जांच कराए जाने हेतु मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 3 सदस्यीय न्यायिक जांच कमेटी का गठन किया गया था।
सत्संग हादसा प्रकरण की जांच हेतु आज न्यायिक जॉच टीम हाथरस पहुंची और शासन द्वारा मामले की जांच के लिए गठित की गई कमेटी के हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव, पूर्व आईएएस हेमंत राव तथा पूर्व आईपीएस भावेश कुमार सिंह की टीम द्वारा जिलाधिकारी आशीष कुमार एवं अन्य अधिकारियों के साथ गांव फुलरई मुगलगढ़ी के सत्संग पंडाल पर पहुंची। यहां पर टीम ने प्रवेश एवं निकासी के रास्ते को भी देखा। सड़क से लेकर पंडाल के पीछे तक जाकर निरीक्षण किया।
टीम को सीओ डा. आनंद कुमार, प्रभारी निरीक्षक आशीष कुमार सिंह ने बताया कि सेवादारों द्वारा पानी का छिड़काव किया गया था। जिसके कारण फुटपाथ के निकट गड्ढे में पानी भर गया। जिससे फिसलन हो गई। भगदड़ में लोग गड्डे में गिर गए तथा खेतो की ओर दौड़ पड़े थे। इसके उपरांत टीम ने सीएचसी ट्रॉमा सेंटर पर पहुंचकर वहां का भी जायजा लिया।
तीन सदस्यीय न्यायिक जांच कमेटी के अध्यक्ष सेवानिवृत्त न्यायाधीश बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि हमने घटनास्थल का निरीक्षण किया है। हमने निकास बिंदु देखें। जिससे भी जरूरत होगी उससे पूछताछ करेंगे। हमें 2 महीने के अंदर अपनी रिपोर्ट देने का आदेश दिया गया है। हम जल्द से जल्द रिपोर्ट तैयार करने की कोशिश करेंगे। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी साहित्य प्रकाश मिश्र, एसडीएम रविंद्र कुमार एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर