Explore

Search
Close this search box.

Search

June 16, 2024 11:58 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

पशुपालकों ने पशु को न लगवाये टैग तो नहीं मिलेगी विभागीय सुविधा

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email


हाथरस-24 मई। पशुपालन विभाग चला रहा विशेष गौवंश संरक्षण एवं टैगिंग अभियान जिलाधिकारी अर्चना वर्मा द्वारा दिये गये निर्देशों के क्रम मे मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डा. प्रमोद कुमार ने शहरी क्षेत्र मे विचरण कर रहे निराश्रित गौवंश को संरक्षण हेतु एक आकस्मिक बैठक अयोजित की गयी।
मुख्य पशुचिकित्सधिकारी ने शासन की मंशानुसार सड़क एवं बाजार क्षेत्र में विचरण कर रहे गौवंशों को संरक्षित करने हेतु विशेष अभियान चलाकर गौवंशों को नजदीकी गौ आश्रय स्थलों मे संरक्षित कराने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये। नगर पालिका परिषद की टीम (ग्वाल), पशुचिकित्सको एवं पैरावेटो की संयुक्त टीम बनाकर ग्राम कुवरपुर, इगलास रोड़ गौवंश संरक्षण हेतु रवाना की गयी। गौवंश को पकड़ने के उपरान्त पराग डेयरी सासनी एवं अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल कैलोरा, (हाथरस) मे उतारते समय गौशाला के गेट पर गौवंश की टैगिंग करने एवं संरक्षण के फोटो गु्रप मे शेयर करने हेतु निर्देशित किया गया। उक्त के अतिरिक्त शहरी क्षेत्र की प्राईवेट गौशालाऐं श्री कृष्ण गौशाला, बागमूला चैराहा एवं श्री बालाजी गौशाला इगलास रोड़ टुकसान मे संरक्षित किया जायेगा।
उन्होंने कहा कि पशुपालन विभाग के मुख्य सचिव के निर्देशानुसार एक बार फिर से पशुओं की टैगिंग प्रारम्भ किये जाने एवं 30 जून तक विशेष अभियान चलाकर पशुपालाकों के द्वार पर टैंगिग का कार्य किया जाना प्रस्तावित है। जिसमे समस्त पशुओं को टैग लगाने के उपरान्त भारत पशुधन एप पर रजिस्ट्रेशन किया जायेगा। इसके द्वारा किसी भी पशुपालक के आधार को भारत पशुधन एप पर फीड कर उसके समस्त पशुओं के टीकाकरण, बधियाकरण, कृ.ग., पशुधन बीमा की जानकारी ली जा सकती है। वर्तमान मे यह देखने मे आया कि जानकारी के अभाव या अन्य किसी कारण से पशुपालकों ने अपने पशुओं के टैग निकाल दिये थे। जिस कारण पशुपालन विभाग ने एक बार फिर से योजना को शुरू किया है। पशुपालकांे से अपील है कि पशु को टैग न लगवाने पर पशुपालक को किसी भी विभागीय योजनाओं का लाभ प्राप्त नहीं होगा, पशुपालक विभागीय योजनाओं के लाभ से वंचित रहेगें। बैठक में नगर पालिका अधिशासी अधिकारी (प्रभारी) राम किशोर वर्मा, गौंशाला प्रभारी यशूराज शर्मा, डा. गोपाल सिंह पशुचिकित्साधिकारी मण्डी समिति अन्य अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर