Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 7:28 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

सारी सृष्टि अगर चल रही है तो बस मां की बदौलत से-प्रमिला गौड़

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email


हाथरस-14 मई। सेंट आर.एच. कान्वेंट स्कूल में मनाया गया मातृ दिवस बहुत ही धूमधाम और के साथ मनाया गया। सभी माताआंे को निमंत्रण भेजा गया साथ ही उन्हें रोली चंदन का टीका लगाकर और पटका पहनाकर और उनके ऊपर फूलों की वर्षा करके विद्यालय के दरवाजे पर ही उनको सम्मानित किया गया। उसके बाद उनको अपने बच्चों के साथ परफॉर्मेंस करने का मौका दिया गया। जिसमें सभी माताआंे ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम में छात्र और माता का एक साथ नृत्य, गीत, नाटक, कहानी सुनाना, रैंप वॉक, मिमिक्री, अभिनय, चुटकुले और अन्य प्रदर्शन कलाओं में भी भाग लेना।
प्रधानाचार्या श्रीमती प्रमिला गौड़ ने कहा कि मां से बढ़कर कोई नहीं है। सारी सृष्टि अगर आज चल रही है। तो वह सिर्फ मां की बदौलत ही है। मां ही सृष्टि की रचयिता है। आज जो कुछ भी हम कर पा रहे हैं, देख पा रहे हैं, सुन पा रहे हैं सब की कर्ताधर्ता माँ ही तो है। भगवान के बाद अगर दूसरे नंबर पर कोई आता है तो वह माँ ही है। माँ की ही सारी माया है। माँ ही जीवन दाता है। आज जो कुछ भी इस सृष्टि में हो रहा है वह सब मां की ही बदौलत है।
उन्होनंे आगे कहा हकि अपने-अपने बच्चों के साथ सभी माँ ने बहुत अच्छी परफॉर्मेंस दी। माताओं के लिए बहुत सारे खेलांे का आयोजन भी किया गया। रैंप वॉक भी करवाई गई, स्पीच, चुटकुले, मिमिक्री, कई सरप्राइज गिफ्ट उनके बच्चों के साथ मां की ट्यूनिंग भी कराई गई। उनमें से सभी माता को उनकी परफॉर्मेंस के हिसाब से पुरस्कार दिया गया तथा एक बेस्ट मोम को निकाला गया। बेस्ट मॉम पटका पहनाया तथा एक स्कूल की तरफ से शील्ड देकर सम्मानित भी किया गया।
विद्यालय में अपनी मां के साथ आये बच्चों को स्कूल प्रबंधक अजय किशोर गौड़ ने कहा कि विभिन्न कार्यक्रम करने के उद्देश्य से विद्यार्थियों में मां की अहमियत को समझना है। मां के प्यार और त्याग को बचपन से यदि समझा जाए तो बच्चे उसे समझते हैं और मां की भावना से जुड़कर जीवन में बेहतर करने का प्रयास कर सकते हैं।
प्रिंसिपल प्रमिला गौड़ ने मदर्स डे यानी मातृ दिवस के बारे में बताया कि मां को हम शब्दों में वर्णन कर ही नहीं सकते। माँ तो ममता और त्याग की मूर्ति होती है। वही बच्चों को हर तरह से समझ सकती है और अपने आप को उनकी खुशियों के आड़े नहीं आने देती। अपने आप को कुर्बान कर देती है। पर अपने बच्चों पर कभी भी दुख का साया नहीं आने देती। बच्चों को मां की ममता और त्याग के बारे में समझ होनी जरूरी है। मदर्स डे के जरिए विभिन्न एक्टिविटी करवा कर हम स्टूडेंट में उसे तरह की समझ को पैदा कर सकते हैं। मदर्स डे के कार्यक्रम में विद्यार्थियों के साथ स्कूल के स्टाफ भी भाग लेता है ताकि स्टूडेंट टीचर्स की भावना को भी समझ सके।
मोनिका शर्मा ने कहा कि बच्चों को हर बात की समझ होना जरूरी है और वह जो देखता है समाज मैं बच्चा वैसा ही करता है। स्कूल में होने वाली विभिन्न एक्टिवीटीयों से ही सीख सकता है स्टूडेंट को हर पहलू से जोड़ने के लिए समय-समय पर इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता रहा है।
खुशबू गौड़ ने बताया कि हमें इस बात का बहुत गर्व है कि हमारे बच्चे सेंटआर एच कन्वेंट स्कूल में पढ़ रहे हैं। इससे बच्चा हमारा हर पहलू से ओत प्रोत होता रहता है। इस मौके पर सभी स्टाफ मेंबर ने भरपूर प्यार और सहयोग किया। इस अवसर पर रेनू गुप्ता, रेनू सारस्वत, रिंकी अग्रवाल, राधिका शर्मा, मोहित गौड़ भावना माहौर, रानी कुमारी, गोल्डी अग्रवाल, भारतीय डकरा, पूजा सिसोदिया, सागर वाष्र्णेय, रेनू गुप्ता, गायत्री, मंजरी शर्मा, राजेश गोस्वामी, नीलम वशिष्ठ, निशा, नीतू, बबिता शर्मा, प्रीति, शीतल शर्मा, राखी गौड़, ज्योति शर्मा, श्रृंखला ग्रोवर, हर्षी वासने, निखिल वर्मा, मेहंदी हसन आदि मौजूद थे।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर