Explore

Search
Close this search box.

Search

June 23, 2024 1:08 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

विकसित, समृद्ध अखंड भारत की मनोकामना हेतु एवं मजबूत मोदी सरकार बनाने को ‘‘अपराजिता महायज्ञ’’ कल सेःतैयारियां पूर्ण

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

यज्ञ का उद्देश्य अपना भारत बने समृद्ध व विकसित – आशीष शर्मा


हाथरस-1 जून। विकसित, समृद्ध, अखण्ड भारत की मनोकमना हेतु अपराजिता महायज्ञ का शहर में कल से आयोजन किया जा रहा है। जिससे कि अखंड भारत की परिकल्पना को साकार किया जा सके और देश में मजबूत मोदी सरकार बन सके। 4 जून को आने वाले चुनाव परिणाम से पूर्व चुनावों में भाजपा की ऐतिहासिक सफलता के लिए उक्त यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है।
उक्त संबंध में आज अलीगढ़ रोड स्थित पूर्व पालिका अध्यक्ष पं. आशीष शर्मा द्वारा अपने कैंप कार्यालय पर आयोजित प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि विकसित, समृद्ध, अखण्ड भारत की मनोकामना एवं मजबूत मोदी सरकार बनाने के लिए इस कलिकाल में मॉ अपराजिता की अनुकम्पा ही हमें बचाकर अखण्ड भारत की परिकल्पना को पूर्ण कर सकती है। यज्ञ वैदिक काल से ही मानव जीवन एवं राष्ट्र उत्थान हेतु एक आधारशिला है। अग्नि पवित्र है और जिस संकल्प हेतु यज्ञ किया जाता है, वो संकल्प देवी देवता, आदि शक्ति एवं प्राकृतिक शक्ति के द्वारा पूर्ण होता है। ऐसी शक्ति विजय का एक मात्र श्रोत और जीत का अवतार है।
उन्होंने बताया कि देवी अपराजिता का पूजन एवं यज्ञ तब से प्रारम्भ हुआ जब चारों युगों का प्रारम्भ हुआ। नवदुर्गा की मॉ अपराजिता सम्पूर्ण ब्रहमाण्ड की शक्ति दायिनी तथा सम्पूर्ण ऊर्जा का श्रोत है।
पूर्व पालिका अध्यक्ष पं. आशीष शर्मा ने कहा कि आज भारत अपने स्वर्णिम काल की ओर अग्रसर है। इसी श्रृंखला में राष्ट्र की शक्ति को उत्तरोत्तर वृद्धि हेतु श्री अपराजिता महायज्ञ का आयोजन बृज की द्वार देहरी से प्रारम्भ हो रहा है। बृज की पावन धरा प्रारम्भ से ही राष्ट्रीय उत्थान हेतु अपनी विशिष्ट परम्पराओं के कारण देश की मार्गदर्शिका, क्षेत्रीय होते हुए भी सार्वभौमिक, गतिशील व अपराजेय के साथ-साथ बढ़ी उदात्त भी रही है। राम मन्दिर, धारा 370, 35ए, उज्जैन कोरिडोर, काशी का सर्वांगीण विकास जैसे कार्य विगत दस वर्षों की वानगी ही भारतीय संस्कृति एवं नेतृत्व की भावनाओं का दर्पण है।
उन्होंने कहा कि इसी काल खण्ड में भगवान राम न सिर्फ अपने घर लौटे, बल्कि एक ऐसे मन्दिर का निर्माण हुआ जो भारतीय संस्कृति को युगों-युगों तक ऊर्जा का प्रवाह करता रहेगा। इस अपराजिता महायज्ञ का प्रारम्भ बृज की द्वार देहरी से होना इसलिए भी आवश्यक हो जाता है कि अगले दस साल के काल खण्ड में मथुरा कृष्ण जन्म भूमि सहित मथुरा-वृन्दावन व विकसित भारत का सपना साकार हो सके और यह कार्य केवल, केवल और केवल राष्ट्रभक्त, रामभक्त मोदी ही कर सकते है।
विकसित, समृद्ध, अखण्ड भारत की मनोकामना, मजबूत मोदी सरकार बनाने की दृष्टि से बृज की द्वार देहरी नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष पं. आशीष शर्मा अपने अलीगढ़ रोड स्थित कैम्प कार्यालय पर युवा विद्वान आचार्य सीपू जी महाराज व उनके साथ दूर दराज से आये विद्धानों के सानिध्य में मॉ अपराजिता का महायज्ञ का आयोजन कल 2 जून से प्रारम्भ कर 4 जून को पूर्णाहूति व प्रसाद ग्रहण कर सम्पन्न होगा।
इस अवसर पर पूर्व पालिका अध्यक्ष पं. आशीष शर्मा ने बताया कि इस महायज्ञ का उददेश्य सम्पूर्ण राष्ट्र को शक्ति मिले,अखण्ड भारत का निमार्ण हो तथा अपना राष्ट्र भारत समृद्ध व विकसित बने। प्रेस वार्ता के दौरान युवा विद्वान आचार्य सीपूजी महाराज, राकेश बंसल, प्रदीप शर्मा, विमल प्रधान, नीरज उपाध्याय, ताराचंद्र माहेश्वरी, अनिल दीक्षित, अनिल वर्मा, अमन कौशिक, विशाल दीक्षित आदि मौजूद थे।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर