Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 6:46 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

रामपुर हत्याकांड को लेकर राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email


सासनी- 5 मार्च। डा. भीमराव अम्बेडकर शैक्षिक एवं सामाजिक विकास समिति सासनी हाथरस तथा अम्बेडकर युवक मंडल, भीमराव अम्बेडकर युवा समिति, भीम आर्मी संगठन, राष्ट्रीय बौद्ध महासभा, दी बुद्धिस्ट सोसाइटी ऑफ इंडिया, लॉर्ड बुद्धा एजुकेशन सोसाइटी तथा बुद्ध प्रसार समिति आदि एससी, ओबीसी समाज के संगठन ने संयुक्त रूप से रामपुर हत्याकांड के मामले एवं अम्बेडकर पार्क के निर्माण एवं सौंदर्यीकरण में सरकारी निधि से कराए जा रहे कार्यों में भेदभाव करने तथा बहुजन महापुरुषों के कार्यक्रमों को परमिशन के नाम पर जानबूझकर टाल मटोल करने के विरोध में महामहिम राष्ट्रपति के नाम एसडीएम और तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया।
ज्ञापन सौंपने पूर्व सभी ज्ञापनदाता शहिद पार्क से तहसील सासनी तक पैदल मार्च करते हुए ग्यारह बजे एसडीएम कार्यालय पहुंचे जहां एसडीएम रवेन्द्र कुमार को ज्ञापन सौंप कर दो मिनट का मौन धारण कर दिवंगत आत्मा की शांति और शोकाकुल परिवार को धैर्य धारण हेतु भगवान से प्रार्थना की। एसडीएम को सौंपे ज्ञापन में कहा है कि रामपुर के ग्राम सिलइबारा में अम्बेडकर पार्क में बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के नाम और फोटो के बोर्ड को लेकर हुए विवाद में एक सत्रह वर्षीय कक्षा दसवीं के छात्र सौमेश की गोली लगने से मौत हो गई। जिससे राज्य के सभी अम्बेडकर अनुयायियों में रोष व्याप्त है। ज्ञापन में कहा है कि वर्तमान उत्तर प्रदेश शासन प्रशासन जानबूझकर डॉ. भीमराव अम्बेडकर या अन्य बहुजन महापुरुषों के नाम से निर्मिति पार्क, आबंटित स्थल, बौद्ध बिहार सामुदायिक केंद्र के सरकारी निधि से विकास, निर्माण एवं सौंदर्यीकरण में कार्य कराने में जातिगत भेदभाव किया जा रहा है। ज्ञापन में कहा है कि सौनेश की हत्या के मामले की न्यायिक जांच हो, मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चले। रिपोर्ट के अनुसार दोषियों को गिरफ्तार कर जेल में डाला जाये। पीड़ित परिवार को पचास लाख रुपए की आर्थिक मदद व परिवार में एक सरकारी नौकरी दी जाए। रामपुर अंबेडकर पार्क को शीघ्र बनाये जाने की अनुमति एवम् सरकारी निधि से सौंदर्यीकरण व मृतक की प्रतिमा पार्क में लगाई जाए। रामपुर घटना में सभी घायलों के बेहतर ईलाज की व्यवस्था और आर्थिक मदद दी जाये। इस प्रकार की घटनाएं पुनः न घटित हो उसके लिए बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर एवं अन्य बहुजन महापुरुषों के नाम से निर्मिति सामुदायिक स्थलों पार्कों और स्मारकों बौद्ध बिहार का विकास सौंदर्यीकरण सम्बन्धित ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, विधायक और सांसद आदि सरकारी निधि से कराने के तत्काल आदेश पारित किए जाएं। आगामी चैदह अप्रैल 2024 अम्बेडकर जयंती से पूर्व सभी प्रतिमाओं की स्थापना, पार्कों में निर्माण कार्य सम्बंधित लंबित मामलों के त्वरित आदेश पारित किए जाएं। बाबा साहब की जयंती के अवसर पर आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की समय रहते अनुमति प्रदान करने की आदेश पारित हों। भारत देश का एससी ओबीसी वर्ग भारतीय संविधान में प्रदत्त मूल अधिकारों के अनुपालन में उपरोक्त मांगो को पूर्ण कराने में आपसे काफी उम्मीदें रखता हैं। ज्ञापनदाताओं ने चेतावनी दी है कि यदि सौमेश भाई को न्याय नहीं मिला तो बाबा साहब के वंशज सड़क से संसद तक देशव्यापी आंदोलन चलाने के लिए बाध्य होंगे। जिसकी पूरी जिम्मेदारी प्रदेश एवं केंद्र सरकार की होगी। ज्ञापन देने वालों में विनीत कुमार, लोकेश, सूरज गौतम, एके मौर्य, अंकुश गौतम, देशराज सिंह, मोनिका, सूरज पाल रवी कुमार, संजय, सेंटी गौतम, राखी, कनक प्रिया, सूर्यकांत प्रताप सिंह, आदि मौजूद थे।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर