Explore

Search
Close this search box.

Search

June 20, 2024 4:00 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

दून स्कूल की प्रज्ञान स्कूल ग्रेटर नोएडा मंे दो दिवसीय सीबीएसई कार्यशाला

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email


हाथरस-22 मार्च। सीबीएसई की ओर से दो दिवसीय कार्यशाला में आलोचनात्मक सोच (क्रिटिकल थिंकिंग) एवं सृजनात्मक सोच (क्रिएटिव थिंकिंग) विषय पर उत्कृष्ट रिसोर्स पर्सन के रूप में जेके अग्रवाल अपने संचित अतुलनीय ज्ञान को उपस्थित शिक्षकों के समक्ष समर्पित किया। दो दिवसीय कार्यशाला में प्रधानाचार्य जेके अग्रवाल के साथ, प्रधानाचार्या रुचिका शर्मा, प्रज्ञान स्कूल, नोएडा, विद्यालय समन्वयक नितिन सहाय एवं लगभग 60 उपस्थित शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भरपूर जोश एवं उत्साहपूर्वक प्रतिभागिता की। जेके अग्रवाल ने उपस्थित शिक्षकों को कार्यशाला में विभिन्न गतिविधियों एवं उदाहरण के माध्यम से समझाया कि आलोचनात्मक सोच यानि सत्यता की खोज कही गई बात को आंख मूंदकर मानने की बजाय उस बात को समझना, उसके बारे में जानकारी जुटाना, एनलाइज करना और उसके बाद सच्चाई की परख कर निर्णय लेना। वहीं सृजनात्मक सोच एक ऐसी क्षमता है, जिसके द्वारा विविध विचारों का निर्माण मूल्यांकन तथा सुधार में व्यस्त रहने की योग्यता है। कार्यशाला में शिक्षकों की जिज्ञासाओं के समाधान करते हुए बताया कि क्रिटिकल थिंकिंग हमारी सोच और विचारों को स्पष्ट और प्रभावशाली ढंग से व्यक्त करने में सहायता करती है और क्रिएटिव थिंकिंग हमारे विचारों में मौलिकता लाना, प्रभावशाली समाधान बताना, ज्ञान में वृद्धि करना एवं अर्थपूर्ण अभिव्यक्ति कराती है। कार्यशाला में गहन जिज्ञासा की भावना, मौलिकता, प्रोजेक्ट में अपने बच्चों की मदद करना आदि चीजें शिक्षकों को विस्तार से समझाईं गई।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर