Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 6:51 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

ग़म क्या होता है, यह भूल ही जाओ खुदा ज़िन्दगी में इतना हँसाये आपको

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email


हाथरस-2 अप्रैल। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय वियव विद्यालय के अलीगढ़ रोड स्थित आनन्दपुरी कालोनी केन्द्र की संचालिका एवं नशा मुक्त भारत अभियान हाथरस कोर्डीनेटर राजयोग शिक्षिका बीके शान्ता बहिन का अलौकिक जन्मदिन मनाया गया।
इगलास केन्द्र प्रभारी बीके हेमलता दीदी ने पूर्व सैन्य अधिकारी पिता के संस्कारित आदर्शों का प्रभाव बीके शान्ता बहिन के व्यक्तित्व में है। परमपिता परमात्मा शिव बाबा द्वारा दिये जा रहे सत्य गीता ज्ञान को जीवन का अंग बनाकर उसे सभी तक पहुँचाना की सेवा को जीवन पर्यन्त अंग बनाने का पुण्यकार्य पिछले 45 साल से कर रही हैं।
बीके दुर्गेश बहिन ने कविता पाठ करते हुए सुनाया-खुदा बुरी नजर से बचाये आपको, दैवी गुणों से सजाये आपको, गम क्या होता है, यह भूल ही जायें, खुदा जिन्दगी में इतना हँसाये आपको।
एक्यूप्रेशर विषेशज्ञा डाॅ. रेनू जैन ने अपनी शुभकामनायें देते हुए कहा कि शांता दीदीजी रहमदिल हैं, सभी का भला हो यह भावनायें उनके हर संकल्प में रहती हैं।
रामपुर ब्रह्माकुमारीज संचालिका बीके मीना बहिन ने कहा कि दूसरों की कमी को माँफ करके भुला देना और बाद में भविष्य के लिए सचेत रहने की शिक्षा देना, हम सभी बहिनें शान्ता दीदी की मातृवत पालना का सबूत हैं।
बताया कि भारतीय सनातन संस्कृति में यह गायन है कि कन्या वह जो 21 कुल का उद्धार करे। यह 21 कुल सतयुग, त्रेतायुग और एक सबसे महत्वपूर्ण जन्म कल्याणकारी पुरुषोत्तम संगमयुग पर होता है। इस अवसर पर उपस्थित ब्रह्मावत्सों एवं इगलास से पधारीं बीके हेमलता दीदी, श्वेता बहिन, दुर्गेश बहिन, नीतू बहिन, सासनी से कोमल बहिन आदि ने ‘‘दुआ तुमको देता जहाँ आज सारा, मुबारक हो तुमको जन्मदिन तुम्हारा’’ की मधुर ध्वनि के मध्य मिलकर केक काटा एवं शतायु की कामना की।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर