Explore

Search
Close this search box.

Search

June 23, 2024 2:41 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

किसानों ने डीएम के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

भारतीय किसान यूनियन हरपाल गुट के किसानों ने तहसील परिसर के मुख्य द्वार पर अपनी समस्याओं को लेकर धरना प्रदर्शन कर लोकसभा चुनावी मंथन किया तथा अपनी समस्याओं को लेकर डीएम के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा।
शुक्रवार को सौंपे ज्ञापन में किसानों ने कहा है कि केन्द्र सरकार द्वारा बनाए गये। काॅट्रैक्ट फोरमिंग कानून के खिलाफ दिल्ली में चले भाकियू के घिरावी धरने के दौरान केन्द्रीय गृहराज्यमंत्री अजय मिश्र टैनी द्वाा उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में मारे गये आठ किसानों की हत्या में जेल भेजकर गृहराज्य मंत्री पद से हटाया जाए। फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य का कानून शीघ्र बनाया जाए। ग्रामीण अंचल में टूटी पडी सडकों केा डावर सडकें अभियान चलाकर बनाई जायें। किसानों ने ज्ञापन में कहा है कि गरीबों को तीन हजार रूपये प्रतिमाह पेंशन दी जाए, तथा सात मार्च 2024 को उत्तर प्रदेश विद्युत विभाग द्वारा जारी आदेश में लगाई गई यूनिट की शर्ते धोखाधडी है अतः सभी किसानों के नलकूपों का बिल माफ किया जाए। किसानों ने कहा है कि किसान नेता चैधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने के बाद उनके द्वारा बनाई ग ई कृषि मंडीयो को बन्द न किया जाए। ताकि बडे-बडे कारपोरेटरों के फसलें खरीद बिक्री न हो। सरकारी और प्राईवेट अस्पतालों में मरने पर वेंटीलेटर की फीस न ली जाए। धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता राजकुमार कौशिक ने की, संचालन उमाशंकर बांगड ने किया। ज्ञापन देने वालों में चैधरी हरपाल सिंह, चैधरी नागेन्द्र सिंह, राजकुमार कौशिक, विकास कौशिक, अंकित कौशिक, प्रशांत कौशिक, रामकुमार शर्मा, शिशपाल शर्मा, पवन चैधरी, चंद्रपाल सिंह, विनोद कुमार, राम स्वरूप, पवन कौशिक, उमाशंकर बांगड आदि मौजूद थे।

sunil sharma
Author: sunil sharma

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर