Explore

Search
Close this search box.

Search

July 15, 2024 10:50 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

सिकन्द्राराऊ में आयोजित सत्संग समागम में भगदड़: 100 से ज्यादा मौत

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

शवों को देख मचा भारी हा-हाकर: दर्जनों घायल: घायल हाथरस, अलीगढ़, आगरा व एटा भेजे: आला अधिकारी पहुंचे 
मौके पर आला अधिकारी व भारी पुलिस बल तैनात: मौके पर पहुंच रहे हैं मुख्य सचिव व डीजीपी 
राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री,गृहमंत्री, रक्षा मंत्री, मुख्यमंत्री, राहुल, प्रियंका, अखिलेश, खड़गे,चंद्रशेखर आदि ने जताया शोक 

हाथरस/सिकन्द्राराऊ-2 जुलाई। इतिहास के पन्नों में आज का दिन काले दिन के रूप में दर्ज किया जाएगा और सत्संग समारोह में भाग लेने आए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ में भगदड़ हो जाने से करीब 120 लोगों की जहां दर्दनाक मौतें हो गई हैं। वहीं इस भयाभह हादसे से भारी चीख पुकारें मच गई है।जिले के सिकन्द्राराऊ कस्बे के फुलरई गांव में आज बड़ा हादसा हो गया। यहां साकार हरि बाबा (भोले बाबा)का सत्संग चल रहा था। सत्संग समाप्त होने के बाद यहां से जैसे भी भीड़ निकलना शुरू हुई तो भगदड़ मच गई। भगदड़ में अब तक 120 लोगों की मौत की खबर है। उक्त हादसे में सैकड़ो लोग व बच्चे घायल हो गये हैं। जिन्हें उपचार हेतु हाथरस, आगरा, अलीगढ़ व एटा भिजवाया गया है। मौके पर पुलिस एवं प्रशासन के आला अधिकारियों के अलावा भारी पुलिस बल पहुंच गया है। वही मौके के लिए प्रदेश के मुख्य सचिव व डीजीपी रवाना हो गए हैं। जबकि उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, राज्य मंत्री संदीप सिंह भी मौके पर पहुंच रहे हैं।वही राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री से लेकर तमाम राजनेताओं द्वारा उक्त भयानक दर्दनाक हादसे पर गहरा दुख एवं शोक व्यक्त किया गया है तथा प्रदेश सरकार द्वारा मृतकों एंव घायलों के परिजनों को मुआवजा एवं घायलों के बेहतर उपचार के हेतु निर्देशित किया गया है।। जानकारी के मुताबिक कोतवाली सिकन्द्राराऊ क्षेत्र के नेशनल हाईवे स्थित ग्राम फुलरई मुगलगढ़ी पर आज नारायण साकार हरि (भोले बाबा) का सत्संग कार्यक्रम मानव मंगल मिलन सद्भावना समागम समिति के बैनरतले आयोजित किया गया था। उक्त सत्संग समागम में उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों के अनुयायियों के अलावा राजस्थान व अन्य राज्यों के अनुयायियों की भारी भीड़ उमड़ी थी। बताते है सत्संग समागम के बाद भीड़ का भारी हुजुम एक साथ छूट पड़ा और और एक साथ भीड़ छूटने से भगदड़ मच गई और तमाम महिलाएं व बच्चे तथा लोग नीचे गिर पड़े और उनके ऊपर से भीड़ उन्हें रौंदते हुए निकल गई, जिससे इस भयानक दर्दनाक हादसे में कई लोगों की दर्दनाक मौतें हो गई।। बताते हैं उमस भरी गर्मी में तमाम श्रद्धालु बेहोश एंव घायल हो गए।। घटना की खबर से पूरे क्षेत्र में भारी हड़कंप एवं भगदड़ मच गई और मौके पर आसपास के गांव के ग्रामीणों की भारी भीड़ राहत एंव बचाव हेतु दौड़ पड़ी। वहीं हादसे की सूचना प्रशासन को मिलते ही प्रशासन में भी खलबली मच गई और मौके पर तमाम आला अधिकारी एवं भारी पुलिस बल पहुंच गया तथा जिलाधिकारी आशीष कुमार व पुलिस कप्तान निपुण अग्रवाल भी पहुंच गए। वहीं सूचना पाकर एडीजी आगरा, कमिश्नर अलीगढ़ आदि अन्य तमाम अधिकारी भी पहुंच गए हैं। अधिकारियों एवं क्षेत्रीय लोगों द्वारा तमाम एम्बुलेंसों के माध्यम से घायलों को हाथरस, अलीगढ़ ,एटा व आगरा उपचार हेतु भिजवाया गया है।वही कुछ लोगों की उपचार के दौरान अस्पतालों में मौत हो गई है । इनके अलावा कुछ घायलों को सिकन्द्राराऊ के प्राइवेट अस्पतालों में भी उपचार हेतु भर्ती कराया गया है। समाचार लिखे जाने तक 120 श्रद्धालुओं के मौत हो जाने की बताई जा रही है। लेकिन संभावना जताई जा रही है कि यह आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है।।। तहसील सिकन्द्राराऊ के जीटी रोड स्थित गांव फुलरई पर सत्संग समागम में हुए दर्दनाक हादसे की जानकारी जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सीमा उपाध्याय द्वारा तत्काल प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक को देते हुए पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया गया।।
उक्त भयानक दर्दनाक हादसे पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, नेता विपक्ष राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, भीम आर्मी अध्यक्ष एवं सांसद चंद्रशेखर, सांसद हरेंद्र मलिक, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी हादसे पर गहरा दुख प्रकट किया है।। उक्त सभी राजनेताओं द्वारा अपने एक्स अकाउंट पर लिखा, ‘उत्तर प्रदेश के हाथरस ज़िले में हुआ हादसा अत्यंत पीड़ादायक है। इस दुर्घटना में जिन्होंने अपनों को खोया है, उन शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं। इसके साथ ही मैं सभी घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।।
उक्त हादसे को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मौके के लिए मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह और डीजीपी प्रशांत कुमार को हाथरस के लिए रवाना किया गया है। साथ ही कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी और स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री संदीप सिंह को भी मौके के लिए भेजा गया है और मुख्यमंत्री द्वारा दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में हुई जनहानि पर अत्यंत दुख जताते हुए घटना हृदय विदारक है और समस्त अधिकारियों को राहत एवं बचाव कार्यों के युद्ध स्तर पर संचालन को घायलों के समुचित उपचार हेतु निर्देश दिए है। साथ ही एडीजी आगरा और कमिश्नर अलीगढ़ के नेतृत्व में टीम गठित कर हादसे के कारणों की जांच के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख तथा घायलों को 50-50 हजार की आर्थिक सहायता देने के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिए हैं। कार्यक्रम आयोजकों के विरुद्ध एफआईआर होगी। शासन बड़ी कार्यवाही की तैयारी में है।।। उक्त हादसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मुआवजा का ऐलान किया है और मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये घायलों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक मदद का ऐलान किया है।। यूपी सरकार के मंत्री संदीप सिंह का कहना है, ‘सीएम ने निर्देश दिया है कि हाथरस में जहां हादसा हुआ है वहां पहुंचें और मामले को देखें। साथ ही सरकार की ओर से आवश्यक निर्णय लें। मृतकों की संख्या लगातार बढ़ रही है।। सत्संग समागम में घटित दर्दनाक हादसे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से फोन पर वार्ता कर यथा स्थिति की जानकारी ली गई है और सभी पीड़ितों की हर संभव सहायता के लिए के लिए कहा गया है साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा है कि मेरी संवेदनायें उन लोगों के साथ है जिन्होंने इसमें अपने प्रियजनों को खोया है। इसके साथ ही मैं सभी घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।। जनपद में हुई दुर्घटना के दृष्टिगत जिला प्रशासन द्वारा घटना की स्थिति पर दृष्टि बनाते हुए आम लोगों की सहायता हेतु हेल्पलाईन 05722227041 तथा 05722227042 जारी किये गये है। बताया जाता है मौके पर जनपद गाजियाबाद से एनडीआरएफ की टीम भी पहुंच रही है।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर