Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 10:47 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

सेन्ट आर.एच. काॅन्वेंट स्कूल के विदाई समारोह में बोले .स्कूल छोड़ने के बाद कालेज में जाने का बहुत इंतजार किया-अजय गौड़

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

हाथरस-29 फरवरी। सेंट आर.एच. कन्वेंट स्कूल में कक्षा 8 के छात्र छात्रों का विदाई समारोह काफी हर्ष उल्लास के साथ और संस्कृति प्रोग्राम के साथ संपन्न हुआ।
मुख्य अतिथि भारत विकास परिषद शाखा की अध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा ने मां शारदे की छवि पर दीप प्रज्जलित करके शुभारंभ किया। विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती प्रमिला गौर ने सभी 8जी क्लास के विद्यार्थियों के मस्तक पर टीका लगाकर तथा पटका पहनाकर उनको विद्यालय की तरफ से प्रतीक चिन्ह के रूप में फाइल देकर और ग्रीटिंग कार्ड के साथ उनका स्वागत किया।
शुरुआत में क्लास 7जी के विद्यार्थियों ने मिलकर बहुत ही रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये जो की बहुत ही मनमोहक थे।
विद्यालय के डायरेक्टर अजय किशोर गौड ने कहा कि विदाई का समय अपने प्रियजनांे का अपने से दूर होना बहुत ही कष्टदायक होता है। पर आपके उज्जवल भविष्य के बारे में कामना करके सुखद अनुभूति भी होती है। अजय किशोर गौड़ ने यह भी कहा कि आप सभी को यहां से बाहर जाकर कॉलेज से जुड़ने और देखने के लिए बहुत लंबा इंतजार किया है, आखिर इतने लंबा इंतजार के बाद वह दिन आ ही गया जब आप स्कूल को छोड़कर अपने भविष्य को नया रूप देने के लिए आप कहीं और प्रवेश लेंगे। यह सत्य है कि हमने आप सभी को शिक्षित किया है। हालांकि यह भी सच है हमने भी आप सभी से बहुत कुछ सीखा है। यह बहुत लंबा सफर था इस स्कूल ने आपके बचपन देखा है।
स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती प्रमिला गौर ने कहा कि आप सभी हमारी जिम्मेदारी थे, कभी-कभी हमने तुम्हें प्यार किया और कभी डाटा भी, तुम्हारी देखभाल की, और कभी-कभी तुमको कठिन कार्यों को पूरा करने के लिए भी दिया। मेरा आप सभी से कहना है, इस स्कूल की दहलीज पर खड़े होकर पीछे मुड़कर मत देखना आगे की ओर देखते हुए और आगे बढ़ते हुए संसार को देखना ,मेरे प्यारे बच्चों संसार को आप जैसे अधिक बुद्धिमान युवाओं की बहुत आवश्यकता है।


विद्यार्थी किसी भी स्कूल की सबसे कीमती शक्ति है और उसके बिना शिक्षक और विद्यालय कुछ भी नहीं है मेरी इच्छा है कि मेरे छात्र-छात्राएं पहले से भी अधिक आगे बढ़े और इस स्कूल का और अपने माता-पिता का नाम रोशन करें ,छात्रों को इतने लंबे सालों के कठिन परिश्रम और संघर्ष के बाद अब आप सभी को अलविदा कहने का समय आ गया है। कार्यक्रम के दौरान सभी बच्चों ने बहुत ही सूंदर तरीके से शिक्षकों के लिए कार्यक्रम पेश किये ,जो कि वास्तव में देखने लायक थे। उन्होंने अपनी भावनाओं को कार्यक्रम के माध्यम से टीचर्स को सम्मानित किया । और सभी टीचर्स के लिए अपनी तरफ से कुछ प्रतीक चिन्ह भी दिए, सभी विद्यार्थी बहुत ही ज्यादा भावुक हो रहे थे और बहुत शपक -सपक कर रो भी रहे थे। सभी स्टाफ के साथ मिलकर के विद्यालय की तरफ से भी सभी विद्यार्थियों को प्रतीक चिह्न दिया गया । प्रतीक चिन्ह के रूप में फाइल और ग्रीटिंग कार्ड बनाकर के कर सम्मानित किया गया ।
इस अवसर पर सभी शिक्षक और छात्र छात्राएं बहुत भाबुक हो रही थी, और नम आंखों के साथ विदाई दी।
सभी छात्र छात्राओं ने एक स्वर में विद्यालय में अपने बिताए गए दिनों को अस्मरणीय बताया। क्लास 8जी के लिए विद्यालय के इतिहास में से बच्चों के लिए विद्यालय संबंधित प्रश्नोत्तरी रखी गई, जिसमें दो बच्चे निकाले गए मिस फेयरवेल, मिस्टर फेयरवेल, चुने गए मिस फेयरवेल मयांशी शर्मा तथा मिस्टर फेयरवेल जैनिक कुमार चुने गए।
कार्यक्रम को सफल बनाने में सविता अग्रवाल, खुशबू गौड़, आकांक्षा शर्मा, माधुरी शर्मा ,रिंकी अग्रवाल, रेणुका, मोहित गौड, भावना माहौर, रानी कुमारी, गोल्डी अग्रवाल, भारती धाकरा, पूजा सिसोदिया, सागर वाष्र्णेय, रेणु गुप्ता, गायत्री, मंजरी शर्मा, राजेश गोस्वामी, नीलम वशिष्ठ, निशा कुरेशी, नीतू कुमारी, बबिता शर्मा, निखिल वर्मा, प्रीति कुमारी, शीतल शर्मा, राखी गौर, मिस्टर मेहंदी हसन आदि सभी का विशेष योगदान रहा।

dainiklalsa
Author: dainiklalsa

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर